Life Style

  • 17-Oct-2020
  • 173
मां शक्ति की आराधना का पर्व नवरात्र आज से शुरू हो चुका है। इन नौ दिनों में मां के नौ अलग -अलग रूपों की पूजा की जाती है। इन नौ दिनों मेेंं कुछ लोग  उपवास रखते हैं तो कुछ लोग प्रथम, पंचम और अष्ठम तिथि  का व्रत रखते हैं। आज हम आपको बताएंगे कि आप व्रत के दौरान भी भरपूर मात्रा में प्रोटीन और न्यूट्रिशन कैसे ले सकते हैं।  


आलू से बनी चीजें
वैसे तो आम दिनों में लोग आलू का सेवन कम करते हैं। लोगों का मानना है कि आलू के सेवन से वजन ज्यादा बढ़ता है। लेकिन व्रत के दिनों में आलू का सेवन आपकी भूख को नियंत्रित कर सकता है। आप व्रत में आलू के बने चिप्स, आलू के पापड़, सेंधा नमक के उबले आलू आदि का सेवन कर सकते हैं।
राजगिर के बने लड्डू
राजगिर के लड्डू को आम लोगों की भाषा में व्रत के लड्डू भी कहा जाता है। इसे हल्के आहार के रूप में देखा जाता है। इसके अंदर कई पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं। साथ ही राजगीर के लड्डू में गुड यानी नैचुरल शुगर का प्रयोग किया जाता है इसलिए ये बेहद पौष्टिक होते हैं। कुछ लोग राजगीर्र की बफियां भी बनाते हैं, जिससे टेस्ट के साथ-साथ स्वाद भी भरपूर मिलता है। राजगिर में विटामिन सी होता । राजगिर के आटे के पराठे भी बनाए जा सकते हैं। 
 कूटू का आटा
कुट्टू के आटे के अंदर कम कैलोरी पाई जाती है। यह फाइबर और प्रोटीन से भरपूर होता है। इसलिए कूटू का सेवन व्रत में बेहद लाभदायक है। कूट्टू से बनी पकौड़ी न केवल अच्छी लगती हैं बल्कि इससे भूख भी कम लगती है। इसके अलावा कुछ लोग कूटू की बनी रोटी या परांठे का सेवन भी करते हैं। कूटू के साथ लौकी का प्रयोग करके आप हेल्दी भोजन तैयार कर सकते हैं। कूटू के आटे में आलू मिक्स करके इससे स्वादिष्ट पराठे या फिर पुरी बनाई जा सकती है। 
 व्रत में फल का सेवन करना
फलों का सेवन करने से शरीर तरोताजा महसूस करता है। ऐसे में अगर इसका सेवन व्रत में किया जाए तो दिन भर थकान से दूर रहा जा सकता है। पपीते में मैग्नीशियम, कॉपर, मिनरल्स, विटामिन बी आदि पाए जाते हैं इसलिए व्रत में पपीता बेहद लाभदायक है। इसके अलावा काले अंगूर, अनानास, संतरा, सेब, मौसमी आदि का सेवन व्रत में करने से शरीर को जरूरी पौषक तत्व मिलते रहते हैं। 
 व्रत में दूध का सेवन है अच्छा
अक्सर लोग दूध से बनी चीजों का प्रयोग व्रत में करते हैं। बता दें कि दूध से बनी चीजें शरीर के अंदर उर्जा बनाए रखती हैं। आप व्रत में दूध से बनी खीर, दूध का बना सूजी हलवा, दूध और मेवे के लड्डू आदि का सेवन कर सकते हैं और अपने व्रत के खाने को और पौष्टिक बना सकते हैं।