Sport

  • 15-Sep-2020
  • 189
नई दिल्ली,14 सितंबर। विराट कोहली के नेतृत्व वाली रॉयल चैलेंसर्ज बैंगलोर (आरसीबी) के इरादे इस साल आईपीएल को लेकर काफी मजबूत हैं। टीम के पास कई विशव स्तरीय खिलाड़ी हैं और बेहतरीन संयोजन के साथ विराट कोहली विरोधी टीमों को मात देने के लिए पूरा जोर लगाएंगे। आरसीबी का टॉप ऑर्डर काफी मजबूत हैं, जिसमें विराट कोहली, एबी डिविलियर्स, आरोन फिंच और अन्य कई नाम शामिल हैं।
Sport रनों का अंबार लगाकर कप्तान को बनाया दीवाना
मगर इन सभी के बीच एक युवा बल्लेबाज ने घरेलू क्रिकेट में धमाकेदार प्रदर्शन करके सभी का आकर्षण अपनी ओर खींचा है। बताते चले कि इस खिलाड़ी को पिछले साल ही आरसीबी ने अपने साथ जोड़ा था, लेकिन कप्?तान विराट कोहली ने एक मैच में भी युवा बल्?लेबाज को आजमाया नहीं। यह पूरे आईपीएल में बेंच गर्म करता रहा। फिर इस बल्लेबाज ने विजय हजारे ट्रॉफी और सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में ऐसा धमाल मचाया कि कप्तान विराट कोहली को भी अपना दीवाना बना दिया। आरसीबी के कोचिंग स्टाफ में शामिल साइमन कैटिच ने तो संकेत भी दे दिए कि आईपीएल 2020 में इस युवा बल्लेबाज को डेब्यू करने का मौका मिल सकता है। इस युवा बल्लेबाज का नाम है देवदत्त पडिक्कल। आरसीबी में बेंगलुरु यानी स्थानीय जगह का एकमात्र खिलाड़ी। युवा बल्लेबाज की उम्र महज 20 साल है। देवदत्त पडिक्कल क्रिकेट को लेकर काफी जुनूनी हैं। देवदत्त पडिक्कल जब 11 साल के थे, तब उनका परिवार बेंगलुरु शिफ्ट हो गया था। देवदत्त ने एक इंटरव्यू में बताया था कि बेंगलुरु में बसने के बाद उन्होंने स्कूल से पहले क्रिकेट एकेडमी खोजी थी। वहीं से उन्होंने आईडिया लिया था किस स्कूल में एडमिशन लेकर क्रिकेट में अपना भविष्य बना सकते हैं। देवदत्त पडिक्कल को घर से पूरा समर्थन हासिल रहा कि वो अपने सपने को साकार कर सकें। देवदत्त पडिक्कल बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं, जो रणजी ट्रॉफी में कर्नाटक का प्रतिनिधित्व करते हैं। पडिक्कल की खासियत यह है कि केएल राहुल, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, वॉशिंगटन सुंदर, विजय शंकर, रविचंद्रन अश्निन, मयंक अग्रवाल के बीच भी ये राज्य टीम में अपनी जगह बनाने में सफल रहे। पडिक्कल को अंत तक क्रीज पर ठहरना पसंद है। वह तकनीकी रूप से भी काफी मजबूत नजर आते हैं। पडिक्कल के पास अब तक 15 फर्स्ट क्लास, 13 लिस्ट ए और 12 टी20 मैचों का अनुभव है। पडिक्कल की उम्दा बात यह है कि युवा बल्लेबाज ने तीनों प्रारूपों में खुद को बखूबी साबित किया। उन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में लगभग 35 की औसत से 907 रन बनाए। लिस्ट में वह दो शतक और 5 अर्धशतक जमा चुके हैं जबकि उनकी औसत 59.09 की गजब रही। टी20 में बाएं हाथ के बल्लेबाज ने ज्यादा घातक रूप अपनाया और 64.44 की औसत से 5 अर्धशतक और एक शतक जमाया। इतना प्रतिभाशाली पाते हुए आरसीबी ने 2020 के लिए देवदत्त पडिक्कल को रिटेन किया था। (timesnownews.com)